वर्ल्ड कप: 16 साल बाद दोहराया गया इतिहास, लक्ष्मण जैसा हुआ रायडू का हाल

वर्ल्ड कप: 16 साल बाद दोहराया गया इतिहास, लक्ष्मण जैसा हुआ रायडू का हाल

वर्ल्ड कप: 16 साल बाद दोहराया गया इतिहास, लक्ष्मण जैसा हुआ रायडू का हाल

अंबति रायडू को पिछले साल अक्टूबर से नियमित तौर पर नंबर चार पर उतारा गया. लेकिन, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों में नाकामी के बाद उन्हें बाहर कर दिया गया.

30 मई से इंग्लैंड में शुरू हो रहे क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए भारतीय चयनकर्ताओं और टीम प्रबंधन ने बल्लेबाजी लाइन-अप में सबसे महत्वपूर्ण चौथे स्थान के लिए दावेदार माने जा रहे अंबति रायडू को नहीं चुना. सोलह साल पहले जिन परिस्थितियों में वीवीएस लक्ष्मण वर्ल्ड कप 2003 की टीम में नहीं आ पाए थे लगभग वैसी ही कहानी दूसरे हैदराबादी बल्लेबाज अंबति रायडू के साथ दोहराई गई है. 2003 में वर्ल्ड कप टीम में तीसरे नंबर के बल्लेबाज के रूप में लक्ष्मण का स्थान पक्का माना जा रहा था.

लेकिन टीम चयन से कुछ ही महीने पहले न्यूजीलैंड दौरे में खराब प्रदर्शन के कारण उन्हें वर्ल्ड कप का टिकट नहीं मिल पाया. रायडू अपने करियर में शुरू से नंबर तीन या चार पर खेलते रहे हैं. पिछले साल अक्टूबर से उन्हें नियमित तौर पर नंबर चार पर उतारा गया. लेकिन, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों में नाकामी के बाद उन्हें बाहर कर दिया गया और अब लगता है कि 33 वर्षीय रायडू का हैदराबाद के अपने सीनियर लक्ष्मण की तरह वर्ल्ड कप खेलने का सपना कभी पूरा नहीं हो पाएगा.
चयनकर्ताओं ने तब लक्ष्मण की जगह दिनेश मोंगिया को लिया था. मोंगिया के चयन का आधार यही था कि वह खेल की तीनों विधाओं बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण में थोड़ा-थोड़ा योगदान दे सकते थे, जबकि लक्ष्मण विशुद्ध बल्लेबाज थे. रायडू की जगह चुने गए विजय शंकर ने इसी साल वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया और अब तक केवल नौ मैच खेले हैं.

0 Response to "वर्ल्ड कप: 16 साल बाद दोहराया गया इतिहास, लक्ष्मण जैसा हुआ रायडू का हाल"

Post a Comment

प्रेरकप्रसंग

latest