अजमेर / प्रदेश के पांच हजार से अधिक अभ्यर्थी आरएएस मुख्य परीक्षा देने ही नहीं पहुंचे

अजमेर / प्रदेश के पांच हजार से अधिक अभ्यर्थी आरएएस मुख्य परीक्षा देने ही नहीं पहुंचे

अजमेर / प्रदेश के पांच हजार से अधिक अभ्यर्थी आरएएस मुख्य परीक्षा देने ही नहीं पहुंचे


आरएएस मुख्य परीक्षा 2018 307 अभ्यर्थी ऐसे हैं, जिन्होंने परीक्षा में एक भी पेपर नहीं दिया


अजमेर | राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित आरएएस मुख्य परीक्षा 2018 बुधवार को पूरी हो गई। इस परीक्षा में प्रदेश के 5 हजार से अधिक अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा देने ही नहीं पहुंचे। इनमें से 307 अभ्यर्थी जो परीक्षा के दो या तीन पेपरों में ही शामिल हुए और पूरी परीक्षा नहीं दी। अब ये सभी आरएएस बनने की दौड़ से बाहर हो गए हैं।
आरएएस मुख्य परीक्षा 2018 के लिए कुल 22 हजार 999 अभ्यर्थियों को कॉल किया गया था। ये वे अभ्यर्थी थे, जिन्होंने आरएएस प्री 2018 में सफलता प्राप्त की थी। 4 हजार 782 अभ्यर्थियों ने आरएएस मुख्य परीक्षा में सिरे से ही दिलचस्पी नहीं ली यानी इन अभ्यर्थियों ने उक्त परीक्षा में एक भी पेपर नहीं दिया, जबकि 307 अभ्यर्थियों ने पूरी परीक्षा में आंशिक रूप से ही उपस्थिति दर्ज कराई। इस प्रकार मुख्य परीक्षा में कुल 5 हजार 89 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे।


कुछ अभ्यर्थियों ने मात्र पहला पेपर ही दिया

आयोग द्वारा जारी उपस्थिति रिपोर्ट का अवलोकन करने पर यह भी ज्ञात होता है कि दो दिन में कुल 307 अभ्यर्थी ऐसे रहे जो परीक्षा देने आए, लेकिन पूरे चार पेपर नहीं दे पाए। इनमें से 231 अभ्यर्थी ऐसे हैं जो एक पेपर यानी सामान्य अध्ययन प्रथम ही दे पाए। इस पेपर में ही उन्होंने अपने आपको तोल लिया। इसके बाद दूसरे से चौथे पेपर तक अनुपस्थित रहे। माना जा रहा है कि पहला पेपर बिगड़ने के चलते ही ये अभ्यर्थी दूसरे पेपर में शामिल नहीं हुए। बुधवार को तीसरा और चौथा पेपर आयोजित हुआ। आज 76 अभ्यर्थी ऐसे रहे जो तीसरे पेपर तक मुख्य परीक्षा में शामिल रहे और चौथा पेपर देने नहीं पहुंचे। माना जा रहा है कि उनके सामान्य अध्ययन के तीनों पेपर संतोषप्रद नहीं हुए हैं। इसके चलते ही चौथा पेपर सामान्य हिंदी व सामान्य अंग्रेजी में प्रविष्ट नहीं हुए।
Hindi news,Hindi Samachar,Latest News in Hindi, Breaking News in Hindi,Aaj Tak News

यह रहे उपस्थिति के आंकड़े


आरएएस मुख्य परीक्षा के कुल 22999 अभ्यर्थियों में से किस पेपर में कितने अभ्यर्थी प्रविष्ट हुए एक नजर में


पेपर उपस्थित अनुपस्थित प्रतिशत

सामान्य अध्ययन प्रथम 18311 4688 79.62
सामान्य अध्ययन द्वितीय 18080 4919 78.61
सामान्य अध्ययन तृतीय 17986 5013 78.20
सामान्य हिंदी व अंग्रेजी 17910 5089 77.87

परीक्षा संपन्न, परिणाम कोर्ट के आदेश पर
राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जा रही आरएएस मुख्य परीक्षा 2018 बुधवार शाम को शांतिपूर्वक संपन्न हो गई। दूसरे दिन पहली पारी में 78.20 फीसदी उपस्थिति रही, जबकि दूसरी पारी में 77.87 प्रतिशत अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे। प्रदेश के 7 संभाग मुख्यालयों पर 82 परीक्षा केंद्रों पर इस परीक्षा का आयोजन किया गया।अजमेर समेत सभी संभाग मुख्यालयों पर इस परीक्षा के लिए कुल 22 हजार 999 अभ्यर्थियों को कॉल किया गया। इसमें से पहली पारी यानी पहले पेपर में 17 हजार 986 अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे, 5013 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। जबकि दूसरी पारी में परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की 17 हजार 910 रही। इस पारी में 5089 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। दूसरे दिन पहली पारी में सामान्य अध्ययन तृतीय और दूसरी पारी में सामान्य हिंदी व सामान्य अंग्रेजी के पेपर हुए। आयोग सचिव केके शर्मा के मुताबिक अजमेर के सात परीक्षा केंद्रों समेत प्रदेश के जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, कोटा, भरतपुर और बीकानेर संभाग मुख्यालयों पर कुल 82 परीक्षा केंद्रों पर इसका आयोजन किया गया। राजस्थान हाईकोर्ट के दिसंबर 2018 के आदेशानुसार अदालत के आदेश के बिना उक्त परीक्षा का परिणाम जारी नहीं किया जा सकेगा। कोर्ट ने यह आदेश सुरज्ञान सिंह और अन्य की याचिका पर दिया था। इसके साथ ही अदालत ने सामान्य वर्ग की कट ऑफ से अधिक अंक लाने वाले आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा में शामिल करने को भी कहा था।
Hindi news, हिंदी न्यूज़ , Hindi Samachar, हिंदी समाचार, Latest News in Hindi, Breaking News in Hindi, ताजा ख़बरें,  Aaj Tak News

0 Response to "अजमेर / प्रदेश के पांच हजार से अधिक अभ्यर्थी आरएएस मुख्य परीक्षा देने ही नहीं पहुंचे"

Post a Comment

प्रेरकप्रसंग

latest